नहीं रही स्वर कोकिला, 92 की उम्र में Lata Mangeshkar ने ली आखिरी सांस

अपनी मधुर आवाज से देश-दुनिया पर राज करने वाली सुर-कोकिला लता मंगेशकर का निधन हो गया है। ‘भारत रत्‍न’ से सम्‍मानित गायिका ने मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्‍पताल में अंतिम सांस ली। वह 92 वर्ष की थीं। लता मंगेशकर ने करीब पांच दशक तक हिंदी सिनेमा में फीमेल प्‍लेबैक सिंगिंग में एकछत्र राज किया।

मंगेशकर ने अपने करियर की शुरुआत 1942 में महज 13 साल की उम्र में की थी। उन्होंने अब तक कई भारतीय भाषाओं में 30 हजार से ज्यादा गाने गाए हैं। उन्हें देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से भी नवाजा जा चुका है। इसके अलावा उन्हें पद्म भूषण, पद्म विभूषण और दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।

जनवरी में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उन्हें निमोनिया हो गया। हालत बिगड़ने के बाद उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। उनकी हालत में सुधार के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट भी वापस ले लिया गया। लेकिन 5 फरवरी को उनकी हालत बिगड़ने लगी और उन्हें फिर से वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया लेकिन आज यानि 6 फरवरी को ‘स्वर नाइटिंगेल’ ने आखिरी सांस ली।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles